खुली किताब के कुछ पन्ने …..

किताब के पन्ने ……. जीत और आभा की शादी अरेंज मेरिज थी क्योकि आभा का व्यवहार जीत के मॉ पिता को बहुत भा गया था ,हालाँकि जीत दिखने मे हैंडसम होने के साथ ढेर सारी एक्टिविज मे भी अव्वल था । व्यवहार के अलावा अन्य एक्टिविटिज मे जीत बीस था तो आभा उन्नीस थी ।…

बुढ़ापा ….

Good day to all divine souls ….. बुढापे को जीवन का अभिशाप नही बल्कि अनुभवो की कुंजी व ईश्वर का प्रसाद समझना चाहिये है इसको बेकार ना समझकर एक नयी दिशा देनी चाहिये ।  थोड़ा समय प्रभु भक्ति,सत्संग,स्वाध्याय मे बिताने से जीवन को नया आयाम ,ऊर्जा , उत्साह ,विश्वास व अद्भुत आनंद मिलेगा । उम्र…