मेरा अनुभव-विवाह योग्य लडकी होने पर # जिंदगी की किताब (पन्ना # 18)

विवाह योग्य लडकी होने पर ……

हमारे कई रिश्तेदार,मित्रवर्ग तथा आस पड़ोस ,परिचित …आदि ऐसे कई परिवार है जहॉ शादी योग्य लडके या लड़कियों होती है ।जिनमें कई जनों की सही समय पर शादी हो जाती है तो कई जनों की उम्र तीस के आसपास होने पर भी शादी के आसार नही लगते । मै अपना अनुभव आप सबसे शेयर करना चाहूँगी…..

एक दिन मैं अपने किसी परिचित के यहॉ गई,जो की काफी पैसे वाले थे । उनकी एक तेइस वर्षीय लडकी जो दिखने मे सुंदर ,शादी के योग्य थी । जगह जगह शादी के लायक लड़के से बात चलाई गई पर कोई न कोई वजह से रिश्ता हो न पाता 

एक बार उसके पिताजी के नजदीक के परिजन ने एक विवाह योग्य लड़के के बारे मे बताया कि लड़का शहर में नौकरी करता है । दिखने में सुन्दर है व अच्छे संस्कारवाला है ।माँ बाप की आर्थिक स्थिती भी अच्छी हैं । लड़के की उम्र पच्चीस साल हैं । सब कुछ हमारे हिसाब से फ़िट हैं । इस पर लड़की के पिताजी बोले कि ये सब बाते तो ठीक हैं पर लडके की मासिक आय कितनी है ?

वो परिचित बोला कि करीबन पैतालीस हज़ार मासिक आय है देखा जाये तो अच्छी ही है । लड़की के पिताजी बोले अरे शहर मे पैतालीस हजार से क्या होता है और हॉ मेरी बेटी को काम करने की भी आदत नही है,फूलो की तरह पाला हैं ।पूरे समय के लिये नौकर होना तो बहुत ज़रूरी है । इतनी कम आय मे सब कैसे मैनेज करेगा ।यह कहकर रिश्ता ठुकरा दिया ।

फिर उसने दूसरे लड़के के बारे मे बताया जो दिखने में ठीक हैं व मासिक आय करीबन साठ हजार हे,सिर्फ उसकी उम्र थोड़ी ज्यादा 28 साल की है । लडके के पिताजी बोले कि सिर्फ साठ हजार ?अरे शहर मे एक रूम का फ्लैट भी वो नही खरीद पायेगा । ऐसे मे मेरी बेटी कैसे सुखी व खुश रह सकती है 

परिजन फिर बोला कि मेरे ध्यान मे एक और लड़का है जो देखने मे तो ठीक है लेकिन थोड़ा मोटा है व लंबाई मे थोड़ा कम है । ऐसे बिटिया के हिसाब से लंबाई ठीक है । धनी व सब सुख सुविधाओं वाले परिवार से है । दिमाग वाला व मेहनती है । मासिक आय भी एक लाख हे, पर उम्र 30 साल है देखो !!अगर आपको सही लगता हो तो आगे बात करे ।

लड़की के पिताजी तुरंत बोले कि धनी परिवार व एक लाख की आय को बैठकर चाटना है क्या । मेरी बेटी के लिये तो राजकुमार सा सुन्दर ,पढ़ा लिखा व सब सुख सुविधाओं वाला लड़का ही देखूँगा ।

कोई और अच्छा लडका बताइये जो कम उम्र का हो और दिखने स्मार्ट हो ,अच्छा कमाता हो ,नौकर चाकर हो तथा रहने के लिये घर का मकान हो ।

इस तरह के लडके की तलाश करते करते चार पॉच साल और निकल गए ।

एक बार पुन: उसी परिजन से उन्होने अपनी बेटी के लिये शादी योग्य लडके को ढूँढने के लिये बातचीत प्रारम्भ की । वह परिचित बोला कि अब आपकी लड़की हेतु योग्य वर देखना मेरे बस की बात नही है । अब तो मेरे पास आपकी लड़की के अनुरूप तीस बत्तीस साल वाले लड़को के रिश्ते है, आप बोलो तो बताऊ ।

लड़की का बाप दुखी मन से बोला कि आप कोई भी तरह का लड़का बताइये । इस उम्र में कही हो जाये ये क्या कम बात है लड़की की उम्र भी तो सताईस -अट्ठाईस साल की हो रही है । अब मैं लडके के विषय मे ज्यादा उम्मीदे नही रख सकता ।

जी हॉ ऐसा ही आजकल के ज़माने मे हो रहा है । इस तरह बड़ी बड़ी ख़्वाहिशें वाली बातें करके हम लड़की और लड़को की ज़िंदगीयो के साथ खिलवाड़ करते हैं ।ऐसा करके हम उनकी जिंदगी आबाद करने की बजाय बर्बाद कर रहे है । यदि मॉ बाप की जगह लडकी इस तरह की ख़्वाहिशे रखती है  तो उसे प्यार से समझाना चाहिये ताकि भविष्य मे होने वाली परेशानियों से बचा जा सके । 

यदि हम अपने आस पास देखेंगे तो पायेंगे कि अधिकांश व्यक्ति शादी ब्याह के मामले मे पैसे को मुख्य आधार तो बनाता ही है साथ मे और भी ढेर सारी ख्वाहिशो की लिस्ट भी बना कर रखता है । सर्वगुण सम्पन्न मिलना आज के युग मे बहुत मुश्किल है । 

यदि आय के कारण रिश्ता नही हो पा रहा हो तो हम उस बारे मे इस प्रकार भी विचार कर सकते है …..मान लो शुरू में आय कम भी रही हो तो भी शादी के बाद लड़के लड़कियों में नया जोश ,नयी उमंग होने से ,दोनो अपना संसार सुचारू रूप से चलाने के लिए मिलजुल कर मेहनत करके आर्थिक एवं सांसारिक अड़चनों को भी पार कर लेते है । यदि उनके मातापिता और परिवार के अन्य सदस्य मोरली रूप से पूरा सहयोग दे तो उनका हौसला बुलंद रहेगा और सोने पे सुहागा वाली बात हो जाती है 

सारी जिंदगी पैसा तो आता जाता रहेगा पर उम्र वापस नहीं आएगी । पैसा ,गाड़ी बंगला ही महत्वपूर्ण नहीं है उसके साथ और भी बाते मायने रखती है जैसे कि घर परिवार,चरित्र व्यवहार,योग्यता….लेकिन इसमें भी ज़रूरी नही की सब हमारे अनुरूप मिले लेकिन यदि इसमें कुछ ना भी मिले ,कम या ज्यादा मिले तो भी और बातो को ध्यान मे रखकर निर्णय लेना चाहिये ।

मैने कितने गरीब परिवार देखे है जो आज मेहनत करके करोड़पति बने है,और ऐसे कई करोड़पति परिवार थे जो आज सामान्य स्थिती मे हैं । इसी तरह साधारण दिखने वाले लडके भी अपने व्यवहार तथा गुणों  से सबका मन जीत लेते है और सबके चहेते बन जाते हैं ।

हमे लड़के-लड़कियों की शादी उनकी भावनाये एवं इच्छाओं का ध्यान मे रखते हुये योग्य उम्र में करने की कोशिश करनी चाहिये । 
ये पढ़कर कृपया विवाद मे ना पड़े ।

ये आसपास के लोगो के अनुभव के आधार पर लिये गये विचार है 

अगर योग्य लगे तो आचरण में लाने का प्रयास करे ।

आपकी आभारी विमला मेहता 

लिखने मे गलती हो तो क्षमाप्रार्थी🙏🙏

जय सच्चिदानंद 🙏🙏

 Image internet से ली गई

2 Comments Add yours

  1. Madhusudan says:

    हमे लड़के-लड़कियों की शादी उनकी भावनाये एवं इच्छाओं का ध्यान मे रखते हुये योग्य उम्र में करने की कोशिश करनी चाहिये । पैसा जरूरी है जीने के लिए मगर सबकुछ नहीं।

    Liked by 1 person

    1. सही बोला पैसा ही सबकुछ नही होता उससे ज्यादा योग्यता जरूरी है

      Like

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s