Quotes # 222,223,224,225,226

आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏

हाथ से भोजन करने का वैज्ञानिक कारण # जिंदगी की किताब (पन्ना # 343)

आजकल कई लोग पाश्चात्य सभ्यता का अनुकरण करते हुये हाथ से भोजन करने की बजाय चम्मच कॉटे छुरी का इस्तेमाल करते है व इसमे अपनी शान समझते है । लेकिन हमारे बुज़ुर्ग लोगो ने भोजन करने के लिये चम्मच कांटे की बजाय हाथ से भोजन करने को ज्यादा महत्व दिया । हाथ से भोजन करने…

Quote # 215

किसी के लिये अच्छी दुआये करना भी धर्म होता है यारों ….. एक छोटा सा धर्म जब भी कोई हॉस्पिटल दिखे तो यह प्रार्थना करना हे भगवान अंदर जो भी बीमार व्यक्ति है उसको आप जल्दी से स्वस्थ कर देना चाहे वह कोई भी हो आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏

Quote # 214

जैसे बूँद बूँद करके घड़ा भरता है वैसे ही सकारात्मक या नकारात्मक सोच की बूँदे भी हमारे मस्तिष्क मे भरकर जिन्दगी को सरस या नीरस कर देती है यदि हम ज्यादा से ज्यादा सकारात्मक बात करे व सुने तो निश्चित ही जिन्दगी मे अच्छा परिवर्तन होगा । आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏

Quote # 203

क्यो ना हम ऐसा दान करे बची हुई रोटी को खाखरा बनाने की बजाय किसी गरीब को खिला दे पुराने कपड़ों से बर्तन या कोई और वस्तु लेने की बजाय किसी गरीब को पहना दे आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏

Quotes # 201,202

जिंदगी की maths मे हर सांसें घटती होती है नये अनुभव जुड़ते है अलग अलग कोष्ठको में बंद हम बुनते रहते है समीकरण करते रहते हैं गुणा भाग जबकि जीवन का अंतिम सच शून्य है हमे इन दो पर ज्यादा नाज करना चाहिये पहले वो जो हमारा पेट भरते है – जय किसान दूसरे वो…

Quote # 197,198

यूँ ही नहीं आती खूबसूरती रंगोली में अलग अलग रंगो को एक होना पड़ता है रिश्तों की खूबसूरतीमें भी रंगोली बनना पड़ता हैं इलाईची के दानों सा मुक़द्दर है यारों जितने पिसते गए महक उतनी ही बिखरती गई कभी अपने लिये कभी अपनों के लिये आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏

Quote # 189,190

रिश्तो की ख़ुशबू वही है जहॉ समर्पण व आस्था हो , एक दूसरे की हर पल कमी महसूस हो जुदाई की वेदना और मिलन का अहसास हो फिर चाहे वह प्रेम हो या प्रभु भक्ति हो संबंध बिखरने के तो लाख बहाने आओ जुड़ने के हम अवसर ढूंढे जरूरी नही हर कोई मिलकर खुश हो…

Quotes #178,179

दुःख में स्वयं की एक अंगुली आंसू पोंछती है और सुख में दसो अंगुलियाँ ताली बजाती है जब स्वयं का शरीर ही ऐसा करता है तो दुनिया से क्या गिला-शिकवा करना खुद मे खुदा को देखना ध्यान है दूसरो मे खुदा को देखना प्रेम है खुदा को सभी मे देखना ज्ञान है आपकी आभारी विमला…

Quotes # 170,171,172,173

प्रेम वह नही है जो movie मे देखते है खुद को साफ करो व सामने वाले को माफ करो यही है प्रेम की अभिलाषा बड़े प्यारे होते हैं वो रिश्ते जहॉ ना गिला हो, ना शिकवा हो ना अपेक्षा हो, ना उपेक्षा हो, न अहम हो, ना वहम हो सिर्फ अपनेपन का ही मरहम हो…

Quotes # 168,169,179

अगर आप working woman नही है तो आप अपना परिचय house wife कहकर ना दे । क्योंकि आपकी शादी घर के साथ नही हुई है ।आप तो घर की रानी है इसलिये अपना परिचय house queen कहकर दे । हमारे सम्मान मे कहे जाने वाले शब्द वो नही है जो हमारे सामने बोले जाते है…

घर घर की कहानी ,सास बहू की जुबानी # जिंदगी की किताब (पन्ना # 335)

घर घर की कहानी ,सास बहू की जुबानी ….. picture taken from google शादी को कुछ ही समय हुआ । आज काम के लिये महरी नही आई इसलिये शीलू बरतन धोने लगी । धोते धोते उसके हाथ से कॉच का कप नीचे गिरकर टूट गया । कप टूटते ही वह डरने लगी कि उसकी सास…