Quote # 219

दो चम्मच हँसी और चुटकी भर मुस्कान बस यही खुराक है व ख़ुशी की पहचान आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏

Quote # 155 ,156,157

इस दुनिया मे मेरे भी बहुत थे अपने लेकिन सच बेलने के नशे ने हमे लावारिस बना दिया is duniya me merey bhi bahut they apane lekin sach bolnay ke nashe ne hamey lawaris bana diya राहत भी अपनो से मिलती है , चाहत भी अपनो से मिलती है , अपनो से कभी नही रूठना…

Quotes # 141

एंग्रीमैन की बजाय हैपीमैन बने क्योंकि ऐंग्री चेहरा दूसरो को तो क्या ख़ुद को भी आइने मे देखने पर नही सुहायेगा जबकि हैपी चेहरा जो कोई देखेगा अपना दिल दे बैठेगा । आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏

परिवार “मै” से नही “हम” से बनता है # जिंदगी की किताब (पन्ना # 342)

वीनू फ़ोन पर अचानक बचपन की सहेली मुक्ता की आवाज सुनकर चौक गयी । फ़ोन पर बताया कि वह शहर मे कुछ काम से आ रही है और प्यारी सखी के साथ रहेगी ।सुनकर वीनू खुशी से झूम उठी और पुराने दिनों मे चली गई । बचपन की सहेलियों से मिले हुये व बात किये…

Quote # 123

दूसरे की बजाय अपने आप को खुश करना सीखो क्योंकि जिसको खुश नही होना होगा उसके पीछे एक तो क्या अनेक जिन्दगी भी खर्च कर दोगे तो भी ख़ुश नही होगा और जिसको खुश होना होगा उसको खुश करने की जरूरत ही नही पड़ेगी आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏

खुशी # जिंदगी की किताब (पन्ना # 329)

  हर रोज आती छोटी खुशियॉ की घड़ी  कल रात दरवाज़े पर दस्तक पड़ी  सामने खडी थी खुशियॉ बड़ी । मैने बहुत खुशी से बोला हर पल दिल से स्वागत है तुम्हारा । छोटी छोटी खुशियॉ से भी बहुत खुश हूँ । लेकिन जाओ उन सब के यहॉ, जहॉ मुझसे से भी ज्यादा जरूरत है…