आओ कुछ ऐसा करे # जिंदगी की किताब (पन्ना # 363)

प्रेरक कथा आओ कुछ ऐसा करे …. रामू मिल का चौकीदार था ,उसकी ये खासियत थी कि वह मिल मे काम करने वाले हर व्यक्ति को कभी भी आते जाते समय good morning या good night या सलाम , नमस्ते जरूर करता ,चाहे वह आदमी कोई भी पद पर हो । उसका ऐसा heartily बोलना…

Quote # 206

रिश्ते अंकुरित होते हैं प्रेम से जिंदा रहते हैं संवाद से महसूस होते हैं संवेदनाओं से जिये जाते हैं दिल से मुरझा जाते हैं गलतफहमियों से बिखर जाते हैं अंहकार से और मर जाते हैं शीत युद्ध से आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏

बुढ़ापे मे हाथ पाव जवाब देने लगे # जिंदगी की किताब (पन्ना # 356)

👌👌👌🙏🙏🙏👍👍👍 👌👌जब बुढ़ापे मे हाथ पाव जवाब देने लगते है उस समय बहू घर की कैसे भी साज संभाल करे वो महत्वपूर्ण नही रह जाता बल्कि बेटी की तरह उनकी सेवा करे , ध्यान रखे वो महत्वपूर्ण हो जाता है । फिर क्यो ना हम शुरू से ही बहू को बहू ना मानकर एक बेटी…

सोचने वाली बात# जिंदगी की किताब (पन्ना # 354)

एक लड़की fruits ख़रीदने बाजार गई वहॉ काफ़ी fruits वाले फुटपाथ पर बेच रहे थे लड़की ने एक बूढ़े बुज़ुर्ग जो Apple बेच रहा था उसके दाम पूछे बूढ़े बुज़ुर्ग ने कहा बेटी एक किलो का दाम नब्बे रूपये है उस लड़की ने कहा कि तीन किलो एक साथ लेने पर पचास रूपये कम दूँगी…

Quotes # 160,161,162)

बारिश मे छाते जैसी है शीतलता मे चॉदनी जैसी है चले तो हवा जैसी है वो मॉ ही है जो धूप मे भी छॉव जैसी है आजकल के रिश्तो से तो अच्छी मोबाइल की battery है जो कम से कम ख़त्म होने से पहले warning को देती है रिश्तो मे ना रखा करो हिसाब नफ़े…

जहां चाह ,वहॉ राह # जिंदगी की किताब (पन्ना # 348)

सोलह साल का दीनू बहुत नटखट बच्चा था । स्कूल से आने के बाद कुछ ऐसी दिनचर्या थी कि खाना खाते समय टीवी देखना , फ़ोन पर दोस्तों से बात करना , थोड़ी देर सोकर शाम को दोस्तों के साथ खेलना व जैसे तैसे होमवर्क पूरा करना ताकि टीचर से सज़ा न मिले । पूरी…

एक नजर अंधविश्वास ,मन्नत पर # जिंदगी की किताब (पन्ना # 347)

एक नजर अंधविश्वास व मन्नत पर …. जब हम भगवान या देवी देवता से कोई मन्नत मॉगते है व पूरी होने पर किसी वस्तु का चढ़ावा या प्रसाद या दर्शन ….जो भी बोलते है ओर किसी वजह से पूरा कर ना पाते है या देरी हो जाती है ,ऐसी स्थिती मे यदि घर मे कोई…

Quotes #152,153

आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏

जिन्दगी के कुछ टिप्स # जिंदगी की किताब (पन्ना # 340)

खाइये व खिलाइये दाल रोटी चाहे मोटी हो या पतली व कितनी भी हो कमाई प्यासे को पिलाये पानी चाहे हो जाये कुछ हानि आये का कीजिये मान जाते का कीजिये सम्मान जाइये दुख मे पहले , सुख मे पीछे सोचिये एकांत मे , करिये सबके सामने धोइये दिल की कालिख को ,कुटुम्ब के दाग…

जूता बहुत कुछ कहता है # जिंदगी की किताब (पन्ना # 336)

कभी भी किसी इंसान को पाव का जूता नही समझना क्योंकि जूता भी हमें जिन्दगी के बारे मे कुछ ना कुछ सीख दे जाता है आराम से चलने या दौड़ने के लिये हम जूते की लैस को अपने पाव के हिसाब से टाईट या ढीला करते है ,वैसे ही हम अपनी जिन्दगी मे बहुत सारे…

Quote # 118,119,120

आईना आईना का क्या काम है ? आईना हमे क्या दिखाता है ? ऑंखो से हम सब चीज देख सकते है पर बिना आईना के हम अपनी ऑंखें भी नही देख सकते । ज्ञान भी एक आईना है , ऐसा आईना जो हमे अपने भीतर तक ले जाता है , बाहर की और नही ।…

पैसा हाय पैसा # जिंदगी की किताब (पन्ना # 333)

पैसा हाय पैसा …… आज हर व्यक्ति को सुख चाहिये , सुख चाहना ग़लत नही है पर पैसो से ही उसे सारा सुख मिल जायेगा ,ये जरूरी नही है …… अमेरिका मे एक बड़ा अरबपति बिजनेसमेन जिसका नाम एड्रेस कार्नेगी था , जब वह मरणासन्न की स्थिति मे था तो उसने अपने सेक्रेटरी को बुलाया…