Quote # 216

दुल्हन ही दहेज हैं बोलना कहॉ सच है ? जब हक़ीक़त मे किसी गरीब की बेटी की डोली तब ही उठी जब किसी ने पगड़ी तो किसी ने सम्मान किसी ने जमीन तो किसी ने मकान ,कुछ न कुछ गिरवी रखा आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏 picture taken from google

Quote # 210

बेशक एक नारी इज्जत की हक़दार है क्योंकि वह एक घर को छोड़कर दूसरे घर मे आती हैं लेकिन पुरूष भी उतनी ही इज्जत के क़ाबिल हैं क्योंकि वह भी एक अंजान स्त्री को खुद के साथ घर भी सौंप देता हैं । आपकी आभारी विमलाविल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏 picture taken from google

नारी # जिंदगी की किताब (पन्ना # 357)

देख नारी की हालत ,छलनी हो जाता है सीना , पैसा ,पद के दम पर,नारी की आबरू को छीना पैसो के जो लालची , सौदेबाज़ी करते ना थकते जैसे लडकी तो गुडिया है , खाने की पुडिया है बनते फिरते दु:शासन ,आज चीर सब हरते मॉ का मान भूल गये , अय्याशी मे डूब गये…

Quote # 182

स्री प्यार की मूरत है पुरूष संघर्ष की सूरत है कैसे कहूँ महान किसी को दोनो को एक दूसरे की जरूरत है जो आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏

हर गृहिणी की हक़ीक़त # जिंदगी की किताब (पन्ना # 353)

रात को सोने से पहले रसोई को देखना है , सब कुछ ठीक से तो रखा है फ्रिज मे सामान तो रख दिया है ,कही बाहर गर्मी मे खराब ना हो जाये दही ज़माना या सुबह के लिये चना राजमा छोले भिगौने है सुबह अलार्म बजते ही सबसे पहले रसोंई का दरवाज़ा दिखता है ।…

नारी # जिंदगी की किताब (पन्ना # 346)

नारी एक , निभाती किरदार अनेक हॉ मै नारी हूँ मै , जग का मूल हूँ कोमलता का फूल हूँ मै लक्ष्मी बनकर घर को बनाती और सँवारती है अन्नपूर्णा बनकर भोजन बनाती है गृहलक्ष्मी बन कर कुटुम्ब सम्भालती है सरस्वती बन कर बच्चों को संस्कारों का पाठ पढ़ाती है दुर्गा बनकर संकटों से जूझना…

Quotes # 78

Pati patni rath ke do pahiye hai Pati jeewan rath ka sarthi aur sanchalak hai toh patni triveni sangam hai Khaana banate samay maa ki bhoomika, sneh mein behen ki bhoomika aur sukh dukh mein sahbhagini ke saath ardhangini ban jaati hai. पति पत्नी रथ के दो पहिये है पति जीवन रथ का सारथी और…

Quotes # 70

Jab humein ghar chalaane ke liye kamai karne mein itni taklif dekhni padti hein toh dahej ki rakam jutaney mein maa baap par kya beetti hogi . आपकी आभारी विमला विल्सन जय सच्चिदानंद 🙏🙏